Satya Kam Anand

Satyakam Anand

Meet Satya Kam Anand.

बिहार के आरा जैसे छोटे शहर से निकलकर सत्यकाम आनंद ने बॉलीवुड में अपनी पहचान बनायी।

गैंग्स ऑफ वासेपुर में नवाजुद्दीन सिद्दिकी और मनोज वाजपेयी के साथ विधायक जे पी सिंह के रूप में सत्यकाम आनंद के दमदार किरदार को भला कौन भूल सकता है। ‘बेटा तुमसे ना हो पायेगा…‘ यह मशहूर डायलॉग आज भी हर किसी की जुबान पर रहता है।

सत्यकाम जमीन से जुड़े हुए कलाकार हैं। कामयाबी की ऊँचाई पर पहुँचने के बाद भी बेहद सरल और विनम्र।

सत्यकाम आनंद के नेतृत्व में AMBA (अश्लीलता मुक्त भोजपुरी एसोसिएशन) के माध्यम से भोजपुरी फिल्मों और गीतों से अश्लीलता को दूर करने की दिशा में सार्थक प्रयास किया जा रहा है वहीं BIMBO (ब्यूटीफुल इमेजेज ऑफ मैग्नीफिसेंट भोजपुरी ओसियन) के जरिये बिहार की नई प्रतिभाओं को निखारने, प्रोत्साहित करने और उन्हें अवसर प्रदान करने का भी कार्य चल रहा है।

आज कई युवा कलाकार उनके साथ सिनेमा की खेती करने में जुटे हैं। बिहारवासियों के मान सम्मान की रक्षा करने और बिहार की भाषा संस्कृति को समृद्ध बनाने की दिशा में भी उनका मजबूत स्टैंड दिखाई देता है। उनका यह जज्बा युवाओं में नया जोश भरता है।

सत्यकाम आनंद को 10वें दादा साहब फाल्के फिल्म फेस्टिवल 2020 में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार मिलना सभी बिहारवासियों के लिए गौरव की बात है। यह पुरस्कार उन्हें लघु फिल्म कमांड एंड आईशैल ओबे के लिए मिला है। इस फिल्म का निर्देशन नीरू खेरा ने किया है।

Content credit: Bihar Connection

Thank you

Leave a Reply

Your email address will not be published.